No icon

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2018

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2018 LIVE: सिद्धारमैया सरकार की वापसी मुश्किल, बहुमत के करीब बीजेपी

कर्नाटक विधानसभा चुनाव की मतगणना के रुझानों में बीजेपी बहुमत के करीब पहुंच गई है| 224 सीटों वाली राज्य विधानसभा की 222 सीटों पर पड़े मतों की गिनती मंगलवार सुबह 8 बजे से शुरू हुई| रुझानों में बीजेपी को 109, जबकि कांग्रेस को 68 सीटों पर बढ़त मिलती दिख रही है| जेडीएस प्लस को 43 सीटों पर बढ़त है, अन्य 2 सीट पर आगे हैं|इस बीच बदामी से मुख्यमंत्री सिद्धारमैया एक बार फिर आगे हो गए हैं| जबकि चामुंडेश्वरी में अब भी पीछे हैं| वहीं देवगौड़ा के दोनों बेटे शुरुआती रुझान में आगे चल रहे हैं, जबकि वरुणा से सिद्धारमैया के बेटे आगे चल रहे हैं|मल्लिकार्जुन खड़गे के बेटे प्रियांक शुरुआती दौड़ में पीछे चल रहे हैं|

जेडीएस के प्रमुख नेता कुमारस्वामी भी अपनी सीट से आगे चल रहे हैं और उनके भाई रेवन्ना भी बढ़त बनाए हुए हैं,बीजेपी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार येदियुरप्पा शिकारीपुरा से आगे चल रहे हैं| भले ही चुनाव दक्षिण भारत के इस राज्य में हैं, लेकिन यह चुनाव भाजपा और कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा का प्रश्न भी बन चुके हैं|उत्तर भारत सहित देशभर की नज़र इन नतीजों पर टिकी हुई है| 

इस विधानसभा चुनाव में एक ओर जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की प्रतिष्ठा भी इससे जुड़ी हुई है,वहीं दूसरी ओर जहां सिद्धारमैया और बीएस येदियुरप्पा के बीच कुर्सी की लड़ाई है|

विधानसभा के लिए गत शनिवार यानी 12 मई को मतदान हुआ था|राज्य में फिलहाल कांग्रेस की सरकार है और नई सरकार के लिए जनादेश का फैसला आज की मतगणना से होना है|

जेडीएस के पास सत्ता की चाबी

चुनाव के बाद एग्जिट पोल में भी किसी दल को स्पष्ट बहुमत मिलता नहीं दिख रहा है| ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा है कि राज्य में त्रिशंकु विधानसभा के आसार हैं. ऐसे में पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा की पार्टी जनता दल(एस) किंगमेकर की भूमिका निभा सकती है|

12 मई को मतदान खत्‍म होने के बाद चुनाव आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया था कि राज्य में विधानसभा चुनाव के लिए 72.13 फीसदी मतदान हुआ है| 1952 के बाद इस चुनाव में मतदान प्रतिशत सबसे ज्यादा रहा|

224 सदस्यीय कर्नाटक विधानसभा की आरआर नगर सीट पर चुनावी गड़बड़ी की शिकायत के चलते चुनाव आयोग ने मतदान स्थगित कर दिया गया था| वहीं जयनगर सीट पर भाजपा उम्मीदवार के निधन के चलते मतदान टाल दी गई थी|

40 केंद्रों पर मतगणना

मतों की गणना का काम 40 केंद्रों पर सुबह आठ बजे शुरू हुआ| शुरुआती एक-दो घंटों में ही रुझान आने शुरू हो सकते हैं| आज दोपहर बाद तक राज्य में जनादेश की स्थिति स्पष्ट होने लगेगी और देर शाम तक पता चल सकेगा कि सत्ता की चाबी किसे मिलेगी|पार्टियों के प्रतिनिधियों के अलावा भारी तादाद में सुरक्षाबलों और पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है| ताकि मतगणना का काम सुचारु रूप से पूरा किया जा सके|

कांग्रेस जीती तो बनेगा रिकॉर्ड

यदि कांग्रेस के पक्ष में स्पष्ट जनादेश जाता है तो 1985 के बाद यह पहली बार होगा जब कोई दल लगातार दूसरी बार सरकार बनाएगा| 1985 में तत्कालीन जनता दल ने रामकृष्ण हेगड़े के नेतृत्व में लगातार दूसरी बार सरकार बनाई थी|

2013 में कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 121, बीजेपी को 40, जेडीएस को 40, कर्नाटक जनता पार्टी (केजेपी) 06 और अन्य को 16 सीटें मिली थीं|

नतीजों से ठीक पहले कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री के दावेदार सिद्धारमैया ने कह दिया है| कि यदि आलाकमान फैसला करता है तो वह किसी दलित को मुख्यमंत्री बनाए जाने पर खुद कुर्सी छोड़ने को तैयार है|

उनके इस बयान के बाद कयास लगाए जाने लगे हैं कि राज्य में खंडित जनादेश आ सकता है| उनके इस बयान को जेडीएस से गठबंधन के संकेत के रूप में भी देखा जा रहा है|

'अब तक का सबसे महंगा चुनाव'

कर्नाटक विधानसभा चुनाव राजनीतिक पार्टियों और उनके द्वारा खर्च किए गए धन के मामले में देश में आयोजित ‘अब तक का सबसे महंगा’ विधानसभा चुनाव रहा.यह सर्वेक्षण सेंटर फॉर मीडिया स्टडीज ने किया है|

Comment